Breaking News
Home / Education शिक्षा / BPSSC Bihar Police SI Mains Exam 2020: know bihar police daroga SI Main exam Syllabus Pattern preparation tips – GoIndiaNews

BPSSC Bihar Police SI Mains Exam 2020: know bihar police daroga SI Main exam Syllabus Pattern preparation tips – GoIndiaNews

बिहार पुलिस दारोगा, सार्जेंट, असिस्टेंट जेलर और कंपनी कमांडर के प्रारंभिक परीक्षा का रिजल्ट जारी हो गया है।  मुख्य परीक्षा अप्रैल में हो सकती है। प्रारंभिक परीक्षा में सफल हुए अभ्यर्थियों के आगे चुनौती है कि वे कैसे मुख्य परीक्षा कैसे उत्तीर्ण करें। उनकी तैयारी की रणनीति क्या हो और कैसे हो। विशेषज्ञ डॉ. एम. रहमान के मुताबिक प्रारंभिक परीक्षा के सिलेबस में गणित शामिल नहीं था, बावजूद पांच सवाल गणित से पूछे गए थे। वहीं मुख्य परीक्षा के सिलेबस में समसामयिक को शामिल नहीं किया गया है, लेकिन मेरी सलाह है कि अभ्यर्थी कोई रिस्क न लें और समसामयिक की भी कुछ तैयारी कर लें। अभ्यर्थी को चाहिए कि वे भारत की प्रमुख घटनाओं और बिहार की नवीनतम घटना से परिचित हों। 

ग्रुप बनाकर डिसक्शन करें
डॉ. रहमान के मुताबिक मुख्य परीक्षा देनेवाले अभ्यर्थी एक बार इतिहास, भूगोल(मानचित्र सहित), राजनीतिशास्त्र, अर्थशास्त्र और विज्ञान की एनसीईआरटी की किताब जरूर पढ़ लें। ज्यादा से ज्यादा सेट की प्रैक्टिस करें और अधिक से अधिक टेस्ट दें। दो-तीन अभ्यर्थियों का ग्रुप  बनाकर आपस में डिसक्शन करें। इससे ज्ञान में वृद्धि होगी और बातें याद भी रहेंगी। मुख्य परीक्षा में गणित के भी सवाल रहेंगे। ऐसे में अभ्यर्थी अग्रवाल की किताब से पढ़ाई कर सकते हैं। 

Bihar Daroga bharti 2019: BPSSC ने कहा, परीक्षा परिणाम को लेकर सोशल मीडिया पर भ्रम फैलाया जा रहा

हिन्दी को न समझें आसान
मुख्य परीक्षा में एक पेपर हिन्दी का भी होगा। यह विषय क्वालिफाइंग है। अर्थात इस पेपर में 33 प्रतिशत अंक लाना अनिवार्य है। इसलिए इसे आसान नहीं समझें। हिन्दी में पास करने के लिए प्रतिदिन किसी अच्छी हिन्दी व्याकरण की किताब का एक घंटा अध्ययन करें। रोज कम से कम दो से तीन सेट बनाएं। जो अभ्यर्थी मुख्य परीक्षा के लिए क्वालिफाई कर गए हैं वे अभी से फिजिकल टेस्ट की तैयारी शुरू कर दें। इस बार 1600 मीटर तक 6.30 मिनट में दौड़ना है।  

BPSSC SI Recruitment 2019: बिहार पुलिस अवर सेवा आयोग ने दारोगा अभ्यर्थियों के 276 आवेदन रद्द किए

400 अंकों की होगी परीक्षा 
डॉ.  रहमान ने बताया कि मुख्य परीक्षा चार सौ अंकों की होगी। 200 अंकों के 100 प्रश्न सामान्य अध्ययन से होंगे, जबकि 200 अंक के 100 प्रश्न हिन्दी के होंगे। यदि किसी को 75 प्रतिशत से कम अंक आता है, तो उसके लिए संशय की स्थिति होगी। पांच गलत जवाब पर एक नाकारात्मक अंक का भी प्रावधान है।
 



Source link

About admin

Check Also

Bihar Board Intermediate Deadline For Scrutiny Application Extended – बिहार बोर्ड ने इंटरमीडिएट स्क्रूटनी के लिए बढ़ाई आवेदन की अंतिम तिथि – GoIndiaNews

एजुकेशन डेस्क, अमर उजाला Updated Tue, 26 May 2020 11:46 AM IST ख़बर सुनें ख़बर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *