Breaking News
Home / India भारत / कोरोना पर चर्चा के दौरान आनंद शर्मा ने पूछा- केंद्र बताए लॉकडाउन से क्या हुआ फायदा | nation – News in Hindi – GoIndiaNews

कोरोना पर चर्चा के दौरान आनंद शर्मा ने पूछा- केंद्र बताए लॉकडाउन से क्या हुआ फायदा | nation – News in Hindi – GoIndiaNews

नई दिल्ली. संसद के मानसून सत्र (Parliament Monsoon Session) का बुधवार को तीसरा दिन है. आज राज्यसभा (Rajya Sabha) में कोरोना वायरस (Coronavirus) केस के 50 लाख का आंकड़ा पार करने पर चर्चा हुई. कांग्रेस सांसद आनंद शर्मा (Anand Sharma) ने कोरोना का मुद्दा उठाया. कोरोना पर स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन के बयान पर चर्चा के दौरान आनंद शर्मा ने कहा- कोरोना काल में सरकार ने लॉकडाउन लगाया, तो इसके फायदे क्या-क्या हुए, इसे भी सरकार को बताना चाहिए.

आनंद शर्मा ने कहा, ‘स्वास्थ्य मंत्री ने मंगलवार को कहा कि इस लॉकडाउन के निर्णय ने लगभग 14 से 29 लाख कोविड-19 मामलों और 37,000-78,000 मौतों को रोका गया. मेरा कहना है कि सदन को सूचित किया जाना चाहिए कि वह वैज्ञानिक आधार क्या है, जिसके आधार पर हम इस निष्कर्ष पर पहुंचे हैं.’ शर्मा ने कहा, ‘अचानक 4 घंटे के नोटिस पर जो लॉकडाउन लगाया गया, उससे लोगों को तकलीफ हुई. गरीबों, मजदूरों के सामने रोजी-रोटी का संकट पैदा हो गया. भारत की जो तस्वीर दुनिया में गई, उससे हम इनकार नहीं कर सकते हैं.’

MHA ने बताया- भारत-चीन बॉर्डर पर 6 महीने में नहीं हुई कोई घुसपैठ, पाक सीमा से 47 बार हुई कोशिश

प्रवासी मजदूरों के लिए बने नेशनल डेटा बेसकांग्रेस सांसद ने आगे कहा, ‘सरकार कह रही है कि कितने प्रवासी मजदूर की मौत हुई, इसका हमारे पास कोई डेटा नहीं है. ये बड़े दुर्भाग्य की बात है. मैं चाहता हूं कि आगे के लिए प्रवासी मजदूरों का विवरण रखने के लिए एक नेशनल डेटा बेस बनाया जाए.’

मजदूरों की मौत पर सरकार ने क्या कहा था?
संसद के मानसून सत्र के पहले दिन सोमवार को श्रम मंत्रालय ने लिखित जवाब में कहा था कि सरकार के पास लॉकडाउन में प्रवासी मजदूरों की मौत का आंकड़ा नहीं है, ऐसे में मुआवजे का सवाल नहीं उठता है. सोमवार को सरकार से पूछा गया था कि क्या सरकार के पास अपने गृहराज्यों में लौटने वाले प्रवासी मजदूरों का कोई आंकड़ा है?

विपक्ष ने सवाल में यह भी पूछा था कि क्या सरकार को इस बात की जानकारी है कि इस दौरान कई मजदूरों की जान चली गई थी और क्या उनके बारे में सरकार के पास कोई डिटेल है? साथ ही सवाल यह भी था कि क्या ऐसे परिवारों को आर्थिक सहायता या मुआवजा दिया गया है? इस पर केंद्रीय श्रम मंत्री संतोष कुमार गंगवार ने अपने लिखित जवाब में बताया कि ‘ऐसा कोई आंकड़ा मेंटेन नहीं किया गया है. ऐसे में इस पर कोई सवाल नहीं उठता है.’

राहुल गांधी ने PM Cares पर फिर किया सवाल, कहा- BJP ने चीन से कोरोना तक सिर्फ ख़याली पुलाव पकाए

राहुल गांधी ने बोला था हमला
राहुल गांधी सरकार की प्रतिक्रिया पर मंगलवार को एक ट्वीट में लिखा, ‘मोदी सरकार नहीं जानती कि लॉकडाउन में कितने प्रवासी मज़दूर मरे और कितनी नौकरियां गयीं. तुमने ना गिना तो क्या मौत ना हुई? हां मगर दुख है सरकार पर असर ना हुई, उनका मरना देखा ज़माने ने, एक मोदी सरकार है जिसे ख़बर ना हुई.’ बता दें कि राहुल गांधी फिलहाल सोनिया गांधी के हेल्थ चेक-अप के लिए विदेश गए हुए हैं.

Source link

About GoIndiaNews

GoIndiaNews™ - देश की धड़कन is an Online Bilingual News Channel - गो इंडिया न्यूज़ पर पढ़ें देश-विदेश के ताज़ा हिंदी समाचार और जाने क्रिकेट, बिज़नेस, टेक्नोलॉजी, धर्म, मनोरंजन, बॉलीवुड, खेल और राजनीति की हर बड़ी खबर

Check Also

दुनिया के 100 प्रभावशाली लोगों में PM मोदी का नाम, आयुष्मान खुराना को भी मिली जगह | nation – News in Hindi – GoIndiaNews

भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PTI) इस लिस्ट में शामिल भारतीय लोगों में बॉलीवुड एक्‍टर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *