Breaking News
Home / Bareilly बरेली / The Leopard Carried The Girl Who Was Going To Take A Copy At The Shop – GoIndiaNews

The Leopard Carried The Girl Who Was Going To Take A Copy At The Shop – GoIndiaNews

अमर उजाला ब्यूरो, बरेली

Updated Tue, 29 Sep 2020 02:25 AM IST

उपासना (फाइल फोटो)


उपासना (फाइल फोटो)
– फोटो : अमर उजाला ब्यूरो, बरेली






पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर


कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

शीशगढ़ के गांव बुझिया में शाम साढ़े सात बजे हुई घटना

बच्ची की तलाश में देर रात तक कांबिंग करती रही पुलिस


मीरगंज (बरेली)। कॉपी लेने दुकान पर जा रही दस साल की बच्ची को तेंदुआ उठा ले गया। मौके पर पहुंची पुलिस को तेंदुआ के पगचिह्न और खून के धब्बे मिले हैं। पुलिस देर रात तक जंगल में बच्ची को तलाशती रही, लेकिन कामयाबी नहीं मिली।

शीशगढ़ के गांव बुझिया में रहने वाले बबलू का घर आबादी से बाहर बना है। सोमवार शाम करीब साढ़े सात बजे खाना खाने के बाद बबलू की दस वर्षीय बेटी उपासना कुछ दूरी पर स्थित दुकान से कॉपी लेने के लिए निकली। आधा घंटे तक न लौटने पर घरवालों ने उपासना की तलाश शुरू की। इंस्पेक्टर शीशगढ़ राजकुमार तिवारी के मुताबिक, परिवार वाले जब बच्ची को खोजते हुए दुकान की ओर जा रहे थे तो रास्ते में धान के खेत के पास उन्हें बच्ची की चप्पल, रुपये और खून बिखरा मिला। मौके पर तेंदुए के पगचिह्न भी मिले। अफसरों को सूचना देने के साथ ही पुलिस ने गांव वालों की मदद से तत्काल बच्ची की तलाश में कांबिंग शुरू कर दी, लेकिन देर रात तक उसका कुछ पता नहीं चला। सूचना पर एसडीएम बहेड़ी राजेश चंद्र और सीओ बहेड़ी भी मौके पर पहुंच गए। गांव वालों के मुताबिक आसपास के गांवों में चार-पांच दिन से तेंदुआ देखा जा रहा था। वह कुछ छोटे जानवरों को भी उठा ले जा चुका है।

शीशगढ़ के गांव बुझिया में शाम साढ़े सात बजे हुई घटना


बच्ची की तलाश में देर रात तक कांबिंग करती रही पुलिस

मीरगंज (बरेली)। कॉपी लेने दुकान पर जा रही दस साल की बच्ची को तेंदुआ उठा ले गया। मौके पर पहुंची पुलिस को तेंदुआ के पगचिह्न और खून के धब्बे मिले हैं। पुलिस देर रात तक जंगल में बच्ची को तलाशती रही, लेकिन कामयाबी नहीं मिली।

शीशगढ़ के गांव बुझिया में रहने वाले बबलू का घर आबादी से बाहर बना है। सोमवार शाम करीब साढ़े सात बजे खाना खाने के बाद बबलू की दस वर्षीय बेटी उपासना कुछ दूरी पर स्थित दुकान से कॉपी लेने के लिए निकली। आधा घंटे तक न लौटने पर घरवालों ने उपासना की तलाश शुरू की। इंस्पेक्टर शीशगढ़ राजकुमार तिवारी के मुताबिक, परिवार वाले जब बच्ची को खोजते हुए दुकान की ओर जा रहे थे तो रास्ते में धान के खेत के पास उन्हें बच्ची की चप्पल, रुपये और खून बिखरा मिला। मौके पर तेंदुए के पगचिह्न भी मिले। अफसरों को सूचना देने के साथ ही पुलिस ने गांव वालों की मदद से तत्काल बच्ची की तलाश में कांबिंग शुरू कर दी, लेकिन देर रात तक उसका कुछ पता नहीं चला। सूचना पर एसडीएम बहेड़ी राजेश चंद्र और सीओ बहेड़ी भी मौके पर पहुंच गए। गांव वालों के मुताबिक आसपास के गांवों में चार-पांच दिन से तेंदुआ देखा जा रहा था। वह कुछ छोटे जानवरों को भी उठा ले जा चुका है।

Source link

About GoIndiaNews

GoIndiaNews™ - देश की धड़कन is an Online Bilingual News Channel - गो इंडिया न्यूज़ पर पढ़ें देश-विदेश के ताज़ा हिंदी समाचार और जाने क्रिकेट, बिज़नेस, टेक्नोलॉजी, धर्म, मनोरंजन, बॉलीवुड, खेल और राजनीति की हर बड़ी खबर

Check Also

College Lecturer Murder Case Accused Wife Hates Husband Avdhesh Kicks His Deadbody After Murder – बरेली हत्याकांड: उम्र में 12 साल छोटी विनीता को फूटी आंख नहीं सुहाते थे अवधेश, नफरत इतनी कि हत्या के बाद भी… – GoIndiaNews

अमर उजाला ब्यूरो, बरेली, Updated Tue, 27 Oct 2020 11:12 AM IST बरेली में सुपारी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *