Breaking News
Home / India भारत / मुंबई में अस्‍पताल की लापरवाही आई सामने, 14 दिन तक टॉयलेट में सड़ता रहा कोरोना पॉजिटिव का शव – GoIndiaNews

मुंबई में अस्‍पताल की लापरवाही आई सामने, 14 दिन तक टॉयलेट में सड़ता रहा कोरोना पॉजिटिव का शव – GoIndiaNews

14 दिन बाद टॉयलेट से मिला युवक का शव. (प्रतीकात्‍मक फोटो- AP)

14 दिन बाद टॉयलेट से मिला युवक का शव. (प्रतीकात्‍मक फोटो- AP)

युवक का शव इतनी बुरी तरह से सड़-गल गया था कि उसकी जांच से यह भी पता लगाना पाना मुश्किल हो रहा था कि वो पुरुष का शव है या महिला का शव है.


  • News18Hindi

  • Last Updated:
    October 24, 2020, 1:42 PM IST

मुंबई. मुंबई (Mumbai) में कोरोना वायरस मरीज (Coronavirus positive) की मौत का एक दर्दनाक मामला सामने आया है. मुंबई के एक टीबी हॉस्पिटल में 14 दिन पहले एक 27 साल के कोरोना वायरस संक्रमित युवक लापता हो गया था. उसे टीबी की भी बीमारी थी. अब उसका शव अस्‍पताल के टॉयलेट में मिला है. 14 दिन तक अंदर रहने के कारण शव बुरी तरह से गल चुका है. इतने दिन अस्‍पताल के टॉयलेट में शव पड़े होने के बावजूद किसी को भनक तक नहीं लग पाई. ऐसे में अस्‍पताल पर सवाल खड़े हो रहे हैं.

जानकारी के मुताबिक शव मिलने की घटना के बाद बीएमसी ने सख्‍ती दिखाई है. बीएमसी की ओर से इस मामले में उच्‍च स्‍तरीय जांच के आदेश दिए गए हैं. साथ ही अस्‍पताल के करीब 40 कर्मचारियों को नोटिस जारी किया गया है. ये सभी वो लोग हैं, जो उस वार्ड में ड्यूटी करते थे, जहां से शव मिला है. ऐसे में उन दावों की भी पोल खुल रही है, जिनमें कहा जाता है कि अस्‍पताल के टॉयलेट को कोरोना काल में नियमित रूप से साफ किया जा रहा है.

यह भी बात सामने आई है कि युवक का शव इतनी बुरी तरह से सड़-गल गया था कि उसकी जांच से यह भी पता लगाना पाना मुश्किल हो रहा था कि वो पुरुष का शव है या महिला का शव है. बताया गया कि टॉयलेट में मिला शव 27 साल के सूर्यभान यादव का है. वह उस वार्ड से 4 अक्‍टूबर से लापता था. सुप्रिटेंडेंट डॉ. ललित कुमार आनंदे के अनुसार उसकी लापता की रिपोर्ट दर्ज कर ली गई थी. लेकिन यह सामान्‍य बात है कि टीबी के मरीज अस्‍पताल के बाहर चले जाते हैं.

गोरेगांव में एक मेडिकल अधिकारी द्वारा रेफर किए जाने के बाद सूर्यभान यादव को 30 सितंबर को अस्पताल लाया गया था. अस्पताल के एक डॉक्टर ने कहा कि यादव ने भर्ती होने के दौरान अपना उचित पता नहीं दिया. अस्पताल में 11 कोरोना पॉजिटिव मरीज हैं. यादव को पुरुष रोगियों के लिए पहली मंजिल के वार्ड में रखा गया था. ऐसी आशंका जताई जा रही है कि 4 अक्टूबर को वह शौचालय गया था और सांस फूलने के कारण गिर गया.

अस्पताल प्रबंधन ने कहा कि 18 अक्टूबर तक किसी भी मरीज या कर्मचारी को बदबू नहीं आई. लेकिन जब एक वार्ड बॉय को एहसास हुआ कि तीन बंद टॉयलेट क्‍यूबिक में से एक बंद है और उससे बदबू आ रही है. तो उसने दीवार पर चढ़कर देखा तो उसे सड़ा गला शव पड़ा दिखा. अस्पताल ने तब पुलिस को सूचित किया और शव को पोस्टमार्टम के लिए केईएम अस्पताल भेज दिया.

Source link

About GoIndiaNews

GoIndiaNews™ - देश की धड़कन is an Online Bilingual News Channel - गो इंडिया न्यूज़ पर पढ़ें देश-विदेश के ताज़ा हिंदी समाचार और जाने क्रिकेट, बिज़नेस, टेक्नोलॉजी, धर्म, मनोरंजन, बॉलीवुड, खेल और राजनीति की हर बड़ी खबर

Check Also

Assam में वन अधिकारियों के पीछे पड़ा Rhino, देखिए वीडियो|viral Videos in Hindi – GoIndiaNews

चिंता के विचार आपकी ख़ुशी को बर्बाद कर सकते हैं। ऐसा न होने दें, क्योंकि …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *