Thursday, January 28, 2021
Breaking News
Home / India भारत / सुखबीर सिंह बादल बोले- SC का फैसला BJP की नैतिक हार, कमेटी नहीं है स्वीकार – GoIndiaNews

सुखबीर सिंह बादल बोले- SC का फैसला BJP की नैतिक हार, कमेटी नहीं है स्वीकार – GoIndiaNews

सुखबीर सिंह बादल (फाइल फोटो)

सुखबीर सिंह बादल (फाइल फोटो)

Farmers Protest: सुप्रीम कोर्ट ने तीन नए विवादित कृषि कानूनों (New Farm Laws) के लागू होने पर रोक लगा दी थी। इसके अलावा अदालत ने एक समिति भी गठित की थी, जो किसानों और सरकार के बीच जारी विवाद को खत्म करने के लिए काम करेगी।


  • News18Hindi

  • Last Updated:
    January 13, 2021, 11:13 AM IST

नई दिल्ली. सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने बीते गुरुवार को नए कृषि कानूनों के लागू होने पर रोक लगा दी थी. अदालत के इस फैसले का शिरोमणि अकाली दल (Shiromani Akali Dal) ने समर्थन किया है. पार्टी प्रमुख सुखबीर सिंह बादल (Sukhbir Singh Badal) ने मंगलाव को इस फैसले को भारतीय जनता पार्टी (BJP) की नैतिक हार बताया है. हालांकि, उन्होंने सुप्रीम कोर्ट की तैयार हुई कमेटी पर भी सवाल उठाए हैं. उन्होंने इस समिति में कानून समर्थकों के शामिल करने का आरोप लगाया.

सर्वोच्च अदालत ने लोगों पर पड़ रहे प्रभाव पर चिंता जाहिर की थी. इसके अलावा उन्होंने हफ्तों बाद भी प्रदर्शन शांत नहीं होने को लेकर केंद्र सरकार को भी फटकार लगाई थी. इसके बाद सुखबीर सिंह बादल ने ट्वीट के जरिए बीजेपी पर निशाना साधा है. उन्होंने लिखा ‘आज किसानों को लेकर सुप्रीम कोर्ट का आदेश बीजेपी के लिए नैतिक हार की तरह है.’ पार्टी ने अदालत के फैसले को लेकर एक कोर मीटिंग भी आयोजित की थी.

सुप्रीम कोर्ट ने तीन नए विवादित कृषि कानूनों के लागू होने पर रोक लगा दी थी. इसके अलावा अदालत ने एक समिति भी गठित की थी, जो किसानों और सरकार के बीच जारी विवाद को खत्म करने के लिए काम करेगी. चार सदस्यीय इस टीम को पहली बैठक के बाद 2 महीनो के भीतर अदालत में अपनी सिफारिशें दाखिल करने के आदेश दिए हैं. इस समिति में प्रमोद जोशी, अशोक गुलाटी, अनिल घनवट और भूपिंदर सिंह मान शामिल हैं.

इससे पहले अदालत ने कहा था कि हम बेहतर तरीकों से परेशानियों को सुलझाने की कोशिश कर रहे हैं. मुख्य न्यायाधीश ने कहा ‘यह जिंदगी और मौत का मामला है. हम कानूनों को लेकर चिंतित हैं. हम आंदोलन की वजह से प्रभावित हो रहे लोगों के जीवन और संपत्ति को लेकर चिंतित हैं. हम परेशानी को सबसे अच्छे तरीके से सुलझाने की कोशिश कर रहे हैं.’ उन्होंने कहा कि हमारे पास कानूनों को रद्द करने की भी ताकत है. वहीं, सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली पुलिस की याचिका को मानते हुए किसान संगठनों की 26 जनवरी को होने वाली ट्रैक्टर रैली को लेकर भी नोटिस जारी किया है.




Source link

About GoIndiaNews

GoIndiaNews™ - देश की धड़कन is an Online Bilingual News Channel - गो इंडिया न्यूज़ पर पढ़ें देश-विदेश के ताज़ा हिंदी समाचार और जाने क्रिकेट, बिज़नेस, टेक्नोलॉजी, धर्म, मनोरंजन, बॉलीवुड, खेल और राजनीति की हर बड़ी खबर

Check Also

Mehbooba Mufti’s first visit to Jammu after DDC polls, to plan PDP strategy | India News – GoIndiaNews

NEW DELHI: More than a month after the results of the first District Development Council …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *