Saturday, April 17, 2021
Breaking News
Home / Uttar Pradesh उत्तर प्रदेश / कोरोना पर कंट्रोल के लिए योगी सरकार ने बनाई विशेष रणनीति, आज से फोकस वैक्सीनेशन, जानें कब और कैसे लगेगा टीका – GoIndiaNews

कोरोना पर कंट्रोल के लिए योगी सरकार ने बनाई विशेष रणनीति, आज से फोकस वैक्सीनेशन, जानें कब और कैसे लगेगा टीका – GoIndiaNews

आज से वर्क प्लेस पर शुरू होगा टीकाकरण (सांकेतिक तस्वीर)

आज से वर्क प्लेस पर शुरू होगा टीकाकरण (सांकेतिक तस्वीर)

Focused COVID-19 Vaccination in UP: 8 अप्रैल और 9 अप्रैल को 45 वर्ष से ऊपर के मीडियकर्मियों का वैक्सिनेशन उनके ऑफिस पर ही होगा. 45 साल से ऊपर प्रतिष्ठानों के संचालक, दुकानदारों का भी टीकाकरण होगा. 10 अप्रैल को 45 से ऊपर बैंक- इंश्योरेंस कर्मचारियों का टीकाकरण जाएगा.

लखनऊ. तेजी से फ़ैल रहे कोरोना संक्रमण (Corona Infection) पर पर कंट्रोल के लिए सूबे की योगी सरकार (Yogi Government) ने विशेष रणनीति तैयार की है. गुरुवार से फोकस कोविड वैक्सीनेशन (Focused Vaccination Drive) कराने का फैसला लिया गया है. इसके तहत आज से 23 अप्रैल तक विशेष अभियान चलेगा, जिसमें अब कार्यस्थलों पर भी टीका अभियान चलाया जाएगा. हालांकि किसी भी संस्थान में 45 साल या अधिक उम्र के 100 कर्मियों का होना अनिवार्य होगा.

8 अप्रैल और 9 अप्रैल को 45 वर्ष से ऊपर के मीडियकर्मियों का वैक्सिनेशन उनके ऑफिस पर ही होगा. 45 साल से ऊपर प्रतिष्ठानों के संचालक, दुकानदारों का भी टीकाकरण होगा. 10 अप्रैल को 45 से ऊपर बैंक- इंश्योरेंस कर्मचारियों का टीकाकरण जाएगा. 12 से 14 अप्रैल तक स्कूल-कॉलेजों के शिक्षकों का टीकाकरण होगा. 15-16 अप्रैल को ऑटो रिक्शा चालक का वैक्सीनेशन किया जाएगा. रिक्शा चालक, रेहड़ी दुकानदारों को लगेगा टीका. 20 अप्रैल को वकीलों का होगा टीकाकरण। 22-23 अप्रैल को प्राइवेट कर्मियों का टीकाकरण.

कार्यस्थलों का चयन करने की जिम्मेदारी जिला टास्क फोर्स को सौंपी गई है. चयन के बाद इनके नाम इत्यादि का विवरण कोविन वेबसाइट पर डाला जाएगा. गौरतलब है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ  टीकाकरण अभियान में तेजी लाने के निर्देश दिए हैं. इसी क्रम में अब फोकस्ड कोविड वैक्सीनेशन कराने का फैसला लिया गया है, ताकि संक्रमण पर लगाम लगाया जा सके.

यूपी में भयावह हो रही स्थितिउत्तर प्रदेश में कोरोना की दूसरी लहर भयावह होती जा रही है. अगर पिछले 24 घंटों की बात करें तो प्रदेश में 6023 नए मरीज मिले, जबकि 40 लोगों की मौत संक्रमण की वजह से हुई. राजधानी लखनऊ में तो एक दिन में नए मामले सामने आने का रिकॉर्ड ही टूट गया. बुधवार को राजधानी में 1333 नए संक्रमित मरीज मिले. जबकि 6 लोगों ने संक्रमण की वजह से दम तोड़ दिया. इससे पहले 18 सितंबर को राजधानी में 1244 मरीज मिले थे. कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए मुख्यमंत्री ने बुधवार को समीक्षा बैठक की और उन जिलों के डीएम को विशेष अधिकार दिए जहां एक दिन में 500 से ज्यादा मरीज मिल रहे हैं.  लखनऊ, कानपुर और वाराणसी में एक सफ्ताह के लिए नाईट कर्फ्यू लगा दिया गया.







Source link

About GoIndiaNews

GoIndiaNews™ - देश की धड़कन is an Online Bilingual News Channel - गो इंडिया न्यूज़ पर पढ़ें देश-विदेश के ताज़ा हिंदी समाचार और जाने क्रिकेट, बिज़नेस, टेक्नोलॉजी, धर्म, मनोरंजन, बॉलीवुड, खेल और राजनीति की हर बड़ी खबर

Check Also

मोक्ष में मुश्किल: काशी के श्मशान में 5 से 6 घंटे की वेटिंग, शवों का अंतिम संस्‍कार करने वालों की लंबी लाइन – GoIndiaNews

कोरोना से जूझ रहे वाराणसी में श्मशान घाट पर 5 से 6 घंटे की वेटिंग …